इंटरनेट में इन दिनों सबसे अधिक जिस गेम की की चर्चा हो रही है वो ब्लू व्हेल गेम है सोशल मिडिया से लेकर हर जगह इस गेम से बचने की सलाह दी जा रही है भारत में भी इस गेम ने अपने शिकार बनाने शुरू कर दिए है सबसे पहले शिकार मुंबई में हुआ और अब यह गेम उत्तर प्रदेश में पहुंच गया है

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले का रहने वाला पार्थ सिंह इस खतरनाक गेम का शिकार बना है रविवार रात को पार्थ सिंह अपने कमरे में फांसी लगा लिया बताया जा रहा है की पार्थ सिंह कुछ दिनों से ब्लू व्हेल गेम खेल रहा था

पार्थ सिंह अपने पिता के मोबाइल में ब्लू व्हेल गेम खेल रहा था 

पुलिस का कहना है जब पार्थ सिंह अपने कमरे में फांसी से लटका पाया तब उसके हाथ में अपने पिता का मोबाइल था उस फोन में वही ब्लू व्हेल गेम चालू था जिसमे खेलने वाले को 50 चैलेंज पूरे करने होते थे और आखिरी में सुसाइड के लिए कहा जाता था जब पार्थ की बॉडी को नीचे उतारा गया तब यह गेम फोन में चल रहा था

परिवार को थी जानकारी 

पार्थ सिंह के परिवार वालो ने खुद पुलिस वालो को  पार्थ कुछ दिनों से ब्लू व्हेल गेम खेल रहा था परिवार वालो ने पार्थ को इस गेम न खेलने की सलाह दी लेकिन पार्थ नहीं माना जब भी पार्थ को मौका मिलता तब अपने पिता के मोबाइल में यह गेम खेलता था

दोस्त के जन्मदिन की पार्टी 

पार्थ रविवार को अपने दोस्त के जन्मदिन की बर्थडे पार्टी में जाना था इसके बाद पार्थ ने अपने आप को कमरे में बंद कर लिया लेकिन जब पार्थ के पिता विक्रम सिंह ने दरवाजा तोडा तब पार्थ को फांसी में लटका पाया

कक्षा 6 का छात्र 

पार्थ सिंह उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के मौदाहा गाँव का रहने वाला था पार्थ 13 का था और कक्षा 6 में पढ़ रहा था

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here