अगर आप स्मार्टफोन यूज़र है , तो सावधान हो जाईये। स्मार्टफोन पर ‘डबललॉकर’ नामक रैनसमवेयर आ चुका है। ये रैनसमवेयर स्मार्टफोन लॉक कर देता है और फोन को अनलॉक करने के बदले फिरौती की मांग की जा रही है। डबललॉकर रैनसमवेयर 24 घंटे के अंदर स्मार्टफोन यूजर्स से पैसे न देने पर डेटा करप्ट करने धमकी देता है।

डबललॉकर वायरस क्या है ? 

Image result for फोन virus attack

डबललॉकर एक रैनसमवेयर वायरस है जो यूज़र्स के फोन में दाखिल होने के बाद फोन को पिन लॉक कर देता है। ये वायरस भी बाकी रैनसमवेयर की तरह हमला कर प्रभावित यूजर से फिरौती की मांग करता है।

कैसे करता है अटैक ? 

Image result for फोन virus attack

ये वायरस सबसे पहले फोन की सेटिंग में जाकर पिन को चेंज कर देता है। इसके बाद यूज़र्स अपना फोन खोल नहीं पाते है। और इस वायरसके जरिये फोन का सारा डेटा भी कॉपी कर लेते है। डबललॉकर रैनसमवेयर फेक एडॉब फ्लैश के सहारे एक एंड्रॉयड यूजर्स से दूसरे यूजर्स तक पहुंचता है।

यूज़र्स को वायरस की जानकारी ऐसे मिलती है 

Image result for फोन virus attack

यह रैनसमवेयर होम ऐप में डिफॉल्ट के तौर पर सेट हो जाता है। और उसके बाद जैसे ही यूजर अपने स्मार्टफोन के होम बटन के टैप करता है, डबललॉकर एक्टिवेट हो जाता है और स्मार्टफोन को लॉक कर देता है। इसके बाद यूजर को अपने फोन के हैक होने की जानकारी मिलती है।

4,000 रुपये की मांग 

Image result for फोन virus attack

ये रैनसमवेयर आपके फोन को अनलॉक करने के लिए 4000 रुपए फिरौती की रकम की मांग करता है। अगर यूजर 24 घंटे के अंदर ये रकम नहीं भेजता है, तो DoubleLocker रैनसमवेयर उसका पूरा डेटा करप्ट करने और लीक करने की धमकी देता है। ऐसे में यूजर को डेटा को सही सलामत वापिस पाने के लिए फिरौती की रकम चुकानी ही पड़ती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here