अगर आपको याद हो तो पिछले साल दुनिया के सबसे सस्ते स्मार्टफोन फ्रीडम 251 पर खूब खबरे सामने आयी थी रिंगिंग बेल्स के मैनेजिंग डायरेक्टर और फ्रीडम 251 के निर्माता मोहित गोयल ने हर भारतीय को महज 251 रुपए में स्मार्टफोन देने का दावा और वादा किया था, जिसे वो पूरा नहीं कर सके और आखिर में उन्हें इस वजह से जेल जाना पड़ा। अब मोहित गोयल ने एक बार फिर बयान दिया है जिसमें उन्होंने कहा है कि अगर उन्हें सरकार का सपोर्ट मिलता है, तो वह अब 2018 मार्च-अप्रैल तक फ्रीडम 251 स्मार्टफोन की डिलिवरी शुरू कर सकते हैं।

रविवार को पुलिस ने मोहित गोयल के बाद दो और लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया। मोहित गोयल ने अपने बयान में बताया कि उनकी कंपनी रिंगिंग बेल्स ने फ्रीडम 251 फोन की डिलिवरी के लिए गिरफ्तार किए दोनों आरोपियों को एडवांस दिया था, जिसके बाद भी उन्होंने फोन की डिलिवरी शुरू नहीं की

नोएडा के एसपी, सिटी अरुण कुमार सिंह ने आईएएनएस को बताया 35 वर्षीय विकास शर्मा और 40 वर्षीय जीतू, दोनों ही दिल्ली में रहते हैं। इन पर आरोप है कि रिंगिंग बेल्स को हैंडसेट डिलिवर करने के लिए इन्होंने 3.5 करोड़ रुपए लिए। दोनों आरोपियों को डासना जेल भेज दिया गया है।

समाचार एजेंसी आईएएनएस से फोन पर गोयल ने कहा मैंने इन दोनों को करीब 3.5 करोड़ रुपये दिए और इन्होंने मुझे धोखा दिया। उन्होंने मेरे पैसे गायब कर दिए और कोई फोन डिलिवर नहीं किया। इसी साल फरवरी में कुछ डिस्ट्रीब्यूटर ने मेरे खिलाफ केस दर्ज करवाया और मुझे छह महीने के लिए जेल भेज दिया गया। अब इन दोनों की गिरफ्तारी के बाद, लोगों को पता चलेगा कि मैं हैंडसेट डिलिवर करने का अपना वादा पूरा क्यों नहीं कर सका।

आरोपी गोयल ने कहा आज बड़ी स्मार्टफोन कंपनियां मेरे मॉडल पर चल पड़ी हैं और कार्बन जैसी कंपनियां 1,300 रुपये तक में स्मार्टफोन ऑफर कर रही हैं। जियो द्वारा 1,500 रुपये सिक्योरिटी देकर फोन देने का आइडिया भी इसी तरह का है। उनके पास बहुत पैसा है इसलिए उनके लिए ऐसा करना संभव है। लेकिन लोग उनसे ये क्यों नहीं पूछते कि वे इतने सस्ते स्मार्टफोन बना कैसे रही हैं

मोहित गोयल ने ये भी कहा कि मेक इन इंडिया और स्टार्ट अप इंडिया जैसी मुहिम से जोड़कर उन्होंने ये फोन लाने की पहल की थी, इसके बाद भी सरकार से उन्हें किसी तरह की मदद नहीं मिली। मोहित के इस बयान ने एक बार फिर दुनिया के सबसे सस्ते स्मार्टफोन फ्रीडम 251 को सुर्खियों में ला दिया है। इन खबरों के साथ उन लोगों की उम्मीद भी बंध गई है, जिन्होंने इस फोन को खऱीदने के लिए एडवांस में ही 251 रुपए जमा कर दिए थे, लेकिन फोन उनके हाथ अभी तक नहीं लगा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here