विश्व की सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनी गूगल से हर कोई परिचित है शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो गूगल और गूगल की सेवाओं के बारे मे न जनता हो विश्व की जानी-मानी कंपनी गूगल ने एक आयोजन में सभी भारतीयों को शानदार तोहफा दिया

आपको बता दे की गूगल ने आज अपनी 5 सेवाएं शुरू की है जो पूरे विश्व में सबसे पहले भारत को मिलेगी भारतीय यूज़र्स के लिए गूगल ने शानदार तोहफा पेश किया है जिसमे न केवल सर्विसेस शामिल है बल्कि कुछ ऐसे फीचर्स भी शामिल है जो अभी तक पूरे विश्व में किसी को भी उपलब्ध नहीं हुए दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम के जरिये न सिर्फ भारतीय बाजार के जुड़े कुछ आकंड़ों को शेयर किया है बल्कि 5 बड़ी घोषणाएं भी की है। आईये जानते है वो 5 बड़ी घोषणाएं क्या है

एंडरॉयड ओरियो (गो एडिशन)

Image result for एंड्रॉयड ओरियो (गो एडिशन)

गूगल एंडरॉयड का लेटेस्ट वर्ज़न 8.0 ओरियो है। इस वर्ज़न को सबसे पहले नए तथा हाईएंड डिवाईसेज़ में दिया जा रहा है। लेकिन आज गूगल ने एंडरॉयड ओरियो का गो एडिशन लॉन्च कर दिया है। 8.0 ओरियो का यह एडिशन खासतौर पर लो स्पेसिफिकेशन्स वाले स्मार्टफोन्स के लिए पेश किया गया है। यह वर्ज़न 512एमबी से लेकर 1जीबी रैम वाले स्मार्टफोन्स को भी सपोर्ट करेगा। नए साल के पहले माह से यह भारत के कई स्मार्टफोन्स पर जारी हो जाएगा।

गूगल गो

Image result for गूगल गो

गूगल की ओर से यह ऐप उन लोगों को ध्यान में रखकर पेश की गई है जो इंटरनेट का यूज़ बेहद कम करते हैं या फिर हाल ही में इंटरनेट का उपयोग करने लगे है। इस ऐप का सबसे बड़ा फायदा घर के उन बड़े लोगों व बुजुर्गों को होगा जिन्होंने कभी स्मार्टफोन यूज़ नहीं किया तथा अब स्मार्टफोन यूज़ करने लगे हैं। यह ऐप ने सिर्फ तेजी से सर्च करने में सक्षम है बल्कि डाटा की खपत भी 40 प्रतिशत तक घटाती है। गूगल गो बेहद ही सरल और समझने व यूज़ करने में आसान है। गूगल गो पर हिंदी में काम किया जा सकता है।

जियोफोन गूगल असिस्टेंट

Image result for जियो फोन गूगल असिस्टेंट

गूगल ने आम जनता तथा ग्रामीण यूजर्स के मोबाईल यूज़ को आसान करने के लिए रिलायंस से साझेदारी की है। गूगल ने जियोफोन के लिए खास असिस्टेंट फीचर जारी किया है। इस नए फीचर के बाद जियोफोन पर हिंदी में वॉयस कमांड दी जा सकेगी। किसी एआई फीचर के तहत आने वाली सभी एक्टिविटी जियोफोन पर हिंदी में बोलकर पूरी की जा सकेगी।

फाइल्स गो

4

गूगल फाइल्स गो फोन की स्टोरेज को मैनेज करती है। यह ऐप न सिर्फ पुरानी तथा वेस्ट पड़ी फाइल्स को ढूंढकर अलग करती है बल्कि यूजर्स को राय भी देती है कि कौनी सी ऐप उनके फोन में बेवजह स्पेस घेर रही है। इस ऐप की मदद से फोन की स्टोरेज का बचाया जा सकता है तथा साथ ही किसी अन्य फोन पर बिना इंटरनेट कनेक्टिविटी के 125एमबीपीएस तक की स्पीड से फाईल ट्रांसफर की जा सकती है।

गूगल मैप टू-व्हीलर मोड

Image result for गूगल मैप टू-व्हीलर मोड

इंडिया की सड़के जितनी लंबी है, उतना ही लंबा यहां का ट्रैफिक जाम भी है। अब तक गूगल मैप पर किसी भी जगह पर जाने में लगने वाला टाईम तथा ट्रैफिक की स्थिति का जाना जा सकता था। गूगल मैप पर ट्रैन, कार व पैदल चलकर जानें में कितना समय लगेगा इस बात की जानकारी दी जाती थी। लेकिन अब गूगल ने टू-व्हीलर मोड भी गूगल मैप में जोड़ दिया है। इस फीचर के आने के बाद मैप में टू-व्हीलर के जरिये कितना टाईम लगेगा इस बात की जानकारी भी मिल सकेगी। इस मोड से सीधा फायदा बाईक व स्कूटर चालकों को होगा। इस मोड में मेन सड़कों के साथ ही शार्टकट भी दिखेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here