आज आप कहीं भी जाते हैं तो अपनी निजी सुरक्षा को लेकर काफी चौकस रहते हैं। पर्स से लेकर बैग तक की जांच करते रहते हैं। परंतु यह नहीं जानते कि तकनीक के इस युग में पल-पल आप पर नजर रखी जा सकती है। कोई दूर बैठा भी आपको देख सकता है। ऐसी कई खबरें पहले भी आ चुकी हैं लेकिन लोग ध्यान नहीं देते। जैसे कि होटल के कमरे से वीडियो लीक होना चेंजिंग रूप में हिडेन कैमरा लगा होना और साधारण बातचीत को किसी छोटे से माइक्रोफोन से रिकॉर्ड कर लेना। जबकि ये चीजें काफी खतरनाक साबित हो सकती हैं।

हालांकि ऐसे में आपका जवाब यही होगा कि आज बटन के बराबर कैमरा होता है और ऐसे ही माइक्रोफोन हैं तो कैसे इन चीजों को पकड़ें? कैमरा और माइक्रोफोन डिटेक्टर तो हर जगह लेकर चल नहीं सकते। तो आपको बता दे कि डिटेक्टर हर वक्त आपके हाथों में होता है आप उसका उपयोग करना नहीं जानते। ​जी हां मैं फोन की बात कर रहा हूं। इसका उपयोग भी आप कैमरा और माइक्रोफोन डिटेक्टर के रूप में भी कर सकते हैं बस आपको एक ऐप्लिकेशन डाउनलोड करना होगा

इस ऐप्लिकेशन का नाम है हिडेन कैमरा डिटेक्टर। सबसे खास बात यह कही जा सकती है कि इसका उपयोग बेहद ही आसान है। बस इसे इंस्टॉल करना है और एक क्लिक में यह अपना काम शुरू कर देगा। जब आप अपने एंडरॉयड फोन में हिडेन कैमरा डिटेक्टर ऐप इंस्टॉल करके ओपेन करेंगे तो शुरुआत में यह आपसे कैमरा सहित कुछ ऐक्सेस मांगेगा। इसके ओके करके आगे बढ़ने पर सबसे पहले ही डिटेक्ट कैमरा बाई रेडियेशन मीटर का आॅप्शन आएगा। इसके साथ ही डिटेक्ट इन्फ्रारेड कैमरा, टिप्स एंड ट्रिक्स और पेड ऐप लेने का आॅप्शन होगा

how-to-detect-hidden-camera-in-hindi

डिटेक्ट कैमरा बाई रेडियेशन मीटर को क्टिक करते ही यह अपना काम शुरू कर देता है। स्क्रीन पर गोल सर्किल दिखाई देगा जबकि नीचे की ओर एक हरे रंग की सीधी लाइन चलती रहेगी। लाइन के नीचे ही एक पट्टी पर आपको सूचना मिलती रहेगी कि कैमरा है या माइक्रोफोन। अब आपको अपने फोन को आस पास की चीजों की ओर लेकर जाना है जहां छुपा हुआ कैमरा होने का शक हो। यदि कुछ नहीं मिलता है तो वह हरी लाइन सीधी चलती रहेगी। जैसे ही कोई कैमरा या माइक्रोफोन रेडियेशन इसे मिलेगा नीचे की लाइन जिग जैक हो जाएगी। वहीं जब यह कैमरा डिटेक्ट कर लेगा तो लाइन लाल हो जाएगी और डिटेक्ट का अलार्म बजना शुरू हो जाएगा।

इतना ही नहीं यह ऐप मोबाइल और कंप्यूटर कैमरे को भी डिटेक्ट कर आपको सुचना देता है। हां यदि रेडियेशन ज्यादा है तो पूरी लाइन काली हो जाएगा और नीचे की लाइन स्क्रीन के उपर चलने लगेगी। इससे आप समझ सकते हैं कि कुछ काला है।

हिडेन कैमरा डिटेक्टर ऐप के उपयोग में हमें किसी तरह की परेशानी नहीं हुई और यह कैमरा डिटेक्ट करने में भी सक्षम है। इसके अलाव माइक्रोफोन और रेडियेशन की भी जानकारी देता है। हां कई बार गलत भी सूचना देता है। खास कर जब एक बार इसने कैमरा डिटेक्ट कर लिया और बिना ऐप को पूरी तरह से बंद किए आप फिर से डिटेक्ट करने की कोशश करेंगे तो जानकारियां गलत देगा। हां ज्यादा दूर से भी कैमरे को डिटेक्ट नहीं करता है।

इसका इन्फ्रारेड कैमरा डिटेक्टर अच्छा काम करता है और कम रेशनी में भी यह बता देगा कि कहां कैमरा लगा है। टिप्स एंड ट्रिक्स में आपको कैसे और कहां हिडेन कैमरा ढूंढ़ सकते हैं इसका तरीका बताया गया है जो कि सुरक्षा के लिहाज से बेहद उपयोगी है। कुल मिलाकर कहा जाए तो यह एप्लिकेशन अच्छा है लेकिन इसमें बहुत सुधार की जरूरत है। हां फ्री ऐप में काफी ऐड आते हैं ऐसे में सिर्फ 50 रुपये पेड कर आप ऐड फ्री ऐप का मज़ा ले सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here