भारत की प्रमुख 4जी मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनी रिलायंस जियो ने अब पेमेंट बैंकिंग क्षेत्र में भी कदम रख दिया है। हालांकि ​जियो की ओर से अब तक इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है लेकिन रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया द्वारा इस बात का खुलासा किया गया है। ऐसे में पेमेंट बैंक क्षेत्र में भी अब हम बड़े बदलाव की आशा कर सकते हैं।

रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया ने एक प्रेस वि​ज्ञप्ति जारी कर बताया है कि रिलायंस जियो की पेमेंट बैंक सर्विस शुरू हो चुकी है और आज यानि 4 अप्रैल से​ जियो पेमेंट बैंक को वाणिज्यिक काम शुरू करने की अनुमति भी दे दी गई है। आरबीआई के मुताबिक रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, मुंबई ने 19 अगस्त 2015 में आॅनलाईन पेमेंट बैंक के परिचालन के लिए अर्जी डाली थी और अब वह मंजूर हो गई है। गौरतलब है कि पेमेंट बैंक के लिए जियो के साथ साथ 11 अन्य आवेदकों ने भी पेमेंट बैंक खोलने की रिक्वेस्ट आरबीआई के समक्ष दर्ज की थी।

जियो से पहले ही एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया और पेटीएम जैसी कंपनियों को पेमेंट बैंक की अनुमति मिल चुकी है और इनकी बैंकिंग सर्विस आॅपरेशनल भी हो चुके हैं। बावजूद इसके जियो द्वारा इस क्षेत्र में कदम रखने के बाद हम का काफी बदलाव की आशा कर सकते हैं। एयरटेल की पेमेंट बैंक सर्विस 2016 में ही शुरू हो चुकी थी। वहीं पेटीएम ने मई 2017 में अपना पेमेंट बैंक शुरू किया था। जबकि आदित्य बिड़ला की कंपनी आइडिया द्वारा इसी साल फरवरी में अपने पेमेंट बैंकिंग सर्विस की शुरुआत की गई थी।

जियो से पहले ही एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया और पेटीएम जैसी कंपनियों को पेमेंट बैंक की अनुमति मिल चुकी है और इनकी बैंकिंग सर्विस आॅपरेशनल भी हो चुके हैं। बावजूद इसके जियो द्वारा इस क्षेत्र में कदम रखने के बाद हम का काफी बदलाव की आशा कर सकते हैं। एयरटेल की पेमेंट बैंक सर्विस 2016 में ही शुरू हो चुकी थी। वहीं पेटीएम ने मई 2017 में अपना पेमेंट बैंक शुरू किया था। जबकि आदित्य बिड़ला की कंपनी आइडिया द्वारा इसी साल फरवरी में अपने पेमेंट बैंकिंग सर्विस की शुरुआत की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here