मोबाइल फोन निर्माण की दुनिया में तेजी से विकास कर रहे कस्टमर फोकस्ड स्टार्टअप-ओक्वू ने बुधवार को अत्याधुनिक तकनीक को पसंद करने वालों के लिए दीपावली के तोहफे के तौर पर अपना नया स्मार्टफोन ‘ओक्वू-सिग्मा’ और ‘ओक्वू यु-फ्लाई’ लांच किया। ओक्वू के सीईओ और प्रबंध निदेशक अंशुमान अतुल, सीओओ और सह-प्रबंध निदेशक अर्जुन गुप्ता और मुख्य व्यवसाय अधिकारी अभय मेतकर ने अपने दो नए स्मार्टर-फोन लांच किए।‘ओक्वू ओमीक्रॉन और पाई’ के सफल लांच के बाद कंपनी ने टेकसेवी जेनरेशन के लिए हाईडेफिनेशन रिच डिस्प्ले और एडवांस सुविधाओं से लैस ओक्वू-सिग्मा और ओक्वू यु-फ्लाई मोबाइल मार्केट में उतारा है।

यह दोनों स्मार्टफोन नए फीचर्स के साथ मोबाइल यूजर्स के अनुभव को और बेहतर बनाएंगे। हाई-क्वालिटी और फ्यूचर में होने वाली विशेषताओं के साथ ये स्मार्टफोन डिमांडिंग लाइफ स्टाइल फॉलो करने वाले यूजर्स की जरूरतों पर खरे उतरेंगे।

ओक्वू का विश्वास है कि वह लोगों की हर पीढ़ी के इस्तेमाल के लिए मोबाइल इंडस्ट्री की नवीनतम तकनीक पेश करता रहेगा। सबसे अच्छा अनुभव देने और उपभोक्ताओं की पहुंच के भीतर रहने वाले स्मार्टफोन्स को विकसित करने और लान्च करने की दिशा में कंपनी लगातार काम कर रही है।

कंपनी नवीनतम डिवाइस स्मार्टफोन की लुक और डिजाइन के साथ समझौता किए बगैर उपयोगकर्ता के भारी शुल्क वर्कलोड के साथ तालमाल बिठाने वाली बेहतरीन एडवांस सुविधाएं देने में सक्षम है।

ओक्वू के सीईओ और प्रबंध निदेशक अंशुमान अतुल ने कहा, “हमारी रिसर्च और डिजाइन टीम ने प्रोसेसर के मोर्चे पर कड़ी मेहनत की है। यू-फ्लाई में लगा हमारा कैमरा अत्याधुनिक है। सिग्मा जहां आपको दिलकश अहसास कराता है वहीं यू- फ्लाई के टॉप फीचर्स हमारी सब-10 के कैटेगरी को अत्यंत प्रतिस्पर्धी बनाते हैं। साथ ही हम फीचर फोन सेगमेंट में भी निवेश करने की योजना बना रहे हैं। मैं समझता हूं कि इस अत्यंत मूल्य संवेदनशील और मूल्य संचालित बाजार में अभी भी काफी संभावनाएं हैं। हम इसे दिसंबर में ‘वेन’ ब्रांड नाम से शुरू करेंगे।”

वितरण के लिहाज से ओक्वू के हैंडसेट्स प्रमुख बाजारों के 1200 आउटलेट्स पर उपलब्ध हैं और मार्च 2018 के बाद यह बढ़कर 5000 आउटलेट्स हो जाएंगे। पिछले दो महीने में ही इसकी संख्या सैकड़ा से बढ़कर हजार में पहुंच गई है। ओक्वू अपनी मौजूदगी के प्रत्येक क्षेत्र में बाजार हिस्सेदारी हासिल करने तथा उत्तर भारत में विस्तार करने की तैयारी में है। यह 2016 के बाद दक्षिण भारत को छोड़कर सभी बाजारों में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here