भारतीय बिजनेस मैन मुकेश अंबानी टेलिकॉम रिलायंस जियो कंपनी के साथ टेलिकॉम इंडस्ट्री में अपना पैर जमा चुके है अब मुकेश अंबानी तरह खुद की करंसी जियोकॉइन लाने जा रहे हैं। आपको बता दें कि जियोकॉइन बिटकॉइन , लिटकॉइन और क्रिप्‍टोकरेंसी की तरह वर्चुअल करंसी ही होगी। इस समय बिटकॉइन पूरी दुनिया में डिजिटल करंसी तौर पर फेमस हो चुका है। हालंकि भारत में अभी भी इसमें निवेश करना ज्यादा पसंद नहीं करते हैं लेकिन जियो जैसी भारतीय कंपनी अगर जियो कॉइन पेश करती है तो लोग उसमें निवेश कर सकते हैं।

50 प्रतिशत की प्रोफेशनल्‍स टीम होगी तैयार 

Image result for आकाश  ambani

आपको बता दे की जियो कॉइन लाने के लिए जोर-शोर से तैयारी शुरू कर दी है और इसकी पूरी जिम्मेदारी मुकेश अंबानी के बेटे आकाश अंबानी के ऊपर है लाइव मिन्‍ट में प्र‍काशित खबर के अनुसार आकाश अंबानी की 50 प्रोफेशनल्‍स की टीम तैयार करवा रहे हैं।

ब्लैकचेन का होगा निर्माण 

Image result for बिटकॉइन

आकाश अंबानी की टीम क्रिप्‍टोकरेंसी के लिए जरुरी ब्‍लॉकचेन का निर्माण करेगी और उसके तकनीकी पर नजर रखेगी। रिपोर्ट्स के अनुसार सप्‍लाई चेन में शामिल लोग जियोकॉइन के जरिए खरीद और बेच सकेंगे।

रिलायंस जियो ने अभी नहीं दिया कोई जानकारी 

Image result for रिलायंस जियो

आपको बता दें कि हर तरफ से आ रही खबरों के बाद भी रिलायंस ग्रुप की तरफ से अभी तक कोई ऑफिशियल जानकारी सामने नहीं आई है। कहा जा रहा है कि कंपनी फिलहाल शुरुआती चरण में है इस वजह से कोई जानकारी नहीं दी गई है।

डिजिटल करंसी हो चुकी है काफी प्रॉपुलर 

Image result for डिजिटल करेंसी

भारत समेत दुनिया के सभी विकसित देशों ने डिजिटल करेंसी में निवेश शुरू कर दिया है। इसी के चलते इस समय बिटकॉइन जैसी कंपनी में निवेश करने वाले लोग काफी फायदे में पहुंच चुके हैं। ऐसे में कहा जा रहा है कि जियोकॉइन का आइडिया भी बिटकॉइन की सक्सेस से प्रेरित है।

बिटकॉइन में निवेश पर सरकार दे चुकी है चेतावनी

Image result for डिजिटल करेंसी

जानकारी के लिए बता दें कि भारत में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया चेतावनी जारी कर चुका है कि भारत में मौजूद जो लोग बिटकॉइन में निवेश करना चाहते हैं वह अपनी रिस्क पर निवेश करें। क्योंकि इसमें किसी तरह की रिस्क पर सरकार जबावदार नहीं होगी। देश में बिटकॉइन समेत कोई भी क्रिप्‍टोकरेंसी मान्‍य मुद्रा में शामिल नहीं है। यहां तक की वित्‍त मंत्री ने बिटकॉइन ट्रेडिंग को पोंजी स्‍कीम (फ्रॉड) जैसा बता दिया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here