सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट गुरूवार को थप हो गयी इस बीच खबरे आयी की ब्राजील के हैकर्स ने सुप्रीम कोर्ट की वेबिस्ते को अपना निशाना बनाया है

हम आपको बता दे की सुप्रीम कोर्ट ऑफ़ इण्डिया डॉट निक डॉट इन के होम पेज साइट अंडर मेंटेनेंस का सन्देश दिखाई दिया सरकार के राष्ट्रिय सूचना विज्ञानं केंद्र द्वारा चलायी जाने वाली वेबसाइट के पेज पर अन्य सन्देश साइट के पहुंच के बाहर दिखाई दिया

ब्राजील के हैकर्स ने सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट की हैक

एनआईसी ने ई-गर्वनेस ऐप बनाया है इससे पहले साइट पर कोई त्रुटि सन्देश पर एरर सॉकेट नॉट कनेक्टेड दिखाई दे रहा था जिसका मतलब था की साइट एक डोमेन नाम की सिस्टम त्रुटि का सामना कर रही है

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा न्यायाधीश बी.एच. लाया की मौत के मामले में स्वतन्त्र जाँच की मांग ख़ारिज करने के 30 मिनट बाद ही वेबसाइट डाउन हो गयी इसके बाद वेबसाइट की तस्वीरें खींची गयी जो सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हो रही है

बताया जा रहा है की इस वेबसाइट को ब्राजील के हैकरों द्वारा निशाना बनाया गया है एनआईसी अधिकारियो ने इस मामले के बारे कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है

आपको बता दे की ये पहली बार ऐसा नहीं हुआ है जब सरकारी वेबसाइट हैकिंग का मामला सामने आया है इससे पहले 6 अप्रैल को भी रक्षा मंत्रालय की भी वेबसाइट हैक हो गयी थी बाद में इस मामले में कहा गया की वेबसाइट हैक नहीं बल्कि कुछ तकनिकी खामियों के चलते डाउन हो गयी थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here