अगर आप एंड्राइड स्मार्टफोन यूज़र्स है तो ये खबर आपके लिए जरुरी है। गूगल प्ले स्टोर यूसी ब्राउज़र ऐप को हटा दिया गया है। यूसी ब्राउज़र यूज़र्स के बीच काफी प्रॉपुलर है भारत में टॉप 6 में यूसी ब्राउज़र ऐप आता है। जिसे यूज़र्स पसंद करते है और सबसे ज्यादा डाउनलोड करते है। बता दें कि यूसी ब्राउजर चीन की चर्चित कंपनी अलीबाबा का इंटरनेट ब्राउजर है। यूसी इंडिया में पिछले कुछ समय में अलग-अलग वजहों से विवादों में भी रहा है।

जैसा की हमने आपको बताया यूसी ब्राउज़र प्ले स्टोर से हटा दिया गया है। लेकिन गूगल प्ले स्टोर यूसी मिनी ब्राउज़र उपलब्ध है। यूसी ब्राउज़र भारत में इतना प्रॉपुलर हो चुका है की पिछले हफ्ते ही इस वेब ब्राउज़र ने 50 करोड़ डाउनलोड पूरे किये है। ऐसे में गूगल प्ले स्टोर से यूसी ब्राउज़र गायब हो जाना कई सवाल खड़े करता है।

उस समय एक आईटी मंत्रालय में एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा था कि यूसी ब्राउजर पर इंडियन यूजर्स का मोबाइल डेटा चीन स्थित सर्वर को भेजने की जानकारी सामने आई है। ऐसी भी शिकायतें हैं कि अगर यूजर इस ब्राउजर को अनइंस्टाल कर देता है या ब्राउज़िंग डेटा मिटा भी देता है, इसके बावजूद यूजर के डिवाइस के डीएनएस पर इसका कंट्रोल रहता है और इसके जरिए उसकी जानकारी चीन स्थित सर्वर पर पहुंचती रहती है। बता दें कि अगस्त में भारतीय यूजर्स के मोबाइल डेटा को लीक मामले में सरकार ने यूसी ब्राउजर पर जांच बैठा दी थी।

अधिकारी ने कहा की इस ब्राउज़र पर लगे इन आरोपों की पुष्टि होती है। तो देश में बैन किया जा सकता है। आपको बता दे की गूगल क्रोम के बाद सबसे यूज़ किये जाने वाला ऐप यूसी ब्राउज़र ऐप है। ये अलीबाबा के कारोबार का हिस्सा है।

अलीबाबा पेटीएम में बड़ा निवेश किया है और उसने स्नैपडील में भी पैसा लगाया है। यूसी ब्राउजर ने पिछले साल दावा किया था कि भारत और इंडोनेशिया में उसके 10 करोड़ से ज़्यादा मंथली एक्टिव यूजर्स हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here