व्हाट्स एप मैसेजिंग एप भारत सहित पूरे विश्व में अपनी फीचर्स और सर्विस की वजह से प्रॉपुलर है आपको बता दे की सभी ऐप्स में से वॉट्सएप को सबसे ज्यादा एडवांस और सुरक्षित ऐप माना जाता है। हालांकि भारत सरकार जल्द ही वॉट्सएप के सबसे पॉपुलर फीचर पर रोक लगा सकती है।

रिपोर्ट्स की मुताबिक तो सरकार वॉट्सएप के कॉलिंग फीचर को ब्लॉक कर सकती है। सरकार भारतीय सीमा के पार आतंकवादियों और उनके हैंडलर या सहयोगी के बीच बातचीत पर रोक लगाने के लिए इस फीचर को ब्लॉक कर सकती है।

भारतीय सरकार आउट लाइन रणनीति पर काम कर रही है, जिसमें प्रभावित जगहों पर वॉट्सएप कॉलिंग को बैन किया जा सकता है। आतंकी गतिविधियों के लिए वॉट्सएप के इस्तेमाल का पहला मामला साल 2016 में नगरोटा आर्मी कैंप में सामने आया था। तब ये भी पता चला था कि आतंकी अपने सहयोगियों से वॉट्सएप चैटिंग के जरिए बातचीत करते हैं। साथ ही NIA (नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी) ने बताया था कि वॉट्सएप का इस्तेमाल सीमा के आसपास डायरेक्शन गाइड के लिए भी किया जाता है।

आपको बता दे की भारत के कई देशो में चिंता का विषय बना हुआ है इस मामले को निपटाने के लिए ग्रह मंत्रालय ने हाल ही में एक मीटिंग की थी जम्मू-कश्मीर पुलिस की कुछ सुरक्षा एजेंसियों के साथ इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, दूरसंचार विभाग दूरसंचार विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

भारत सरकार ने फैसला लिया है की जल्द ही नयी नीतियां पेश की जाएँगी जिसमें वॉट्सएप भारतीय अधिकार क्षेत्र के तहत लाया जाएगा। यह बदलाव भारत सरकार को दुर्भावना पूर्ण डेटा फैलाने, आतंकवादी गतिविधियों और चाइल्ड पोर्नोग्राफी पर रोक लगाने में मदद कर सकेगा। भारत सरकार सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म पर ऐसी आपराधिक गतिविधियों को तोड़ने के लिए कड़े आईटी कानूनों के विकास पर भी काम कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here