वीडियो प्लेटफार्म यूटूयूब को हाल में अपनी गलती की कीमत यूज़र्स से माफ़ी मांग कर चुकानी पड़ी दरअसल गूगल की विज्ञापन फ्री सर्विस यूट्यूब रेड पर कुछ विज्ञापन नजर आए। यूजर्स को ये पसंद नहीं आया और इसका विरोध करने के बाद सफाई देते हुए कहा कि किसी तकनीकी परेशानी से ऐसा हुआ जिसके लिए कंपनी अपने यूज़र्स से माफ़ी मांगती है गूगल के वीडियो प्लेटफार्म यूट्यूब का प्रीमियम वर्ज़न यूट्यूब रेड पूरी तरह से विज्ञापन फ्री प्लेटफॉर्म है

यूटूयूब रेड पर आपको यूटूयूब की हर तरह वीडियो पर और चारो तरफ ऐड नजर नहीं आएंगे हालांकि कुछ तकनिकी गड़बड़ी की वजह से यूटूयूब रेड पर ऐड नजर आये है इसके व्यूअर्स ने इसका विरोध किया और गूगग से सवाल किया कि क्या अब ऐड फ्री सर्विस पर भी ऐड देखने होंगे। यूट्यूब रेड पर ऐड दिखने के मामले पर यूट्यूब ने सफाई देते हुए बताया कि यूट्यूब रेड पूरी तरह से ऐड फ्री है, जिसमें यूट्यूब मेंबर को कहीं भी कोई ऐड नजर नहीं आएगा

अगर किसी तरह का कोई भी ऐड नजर आता है तो उसे पूरी तरह से ब्लॉक कर दिया जायेगा भविष्य में दोबारा ऐसा कभी नहीं होगा यूटूयूब ने कहा की ऐसा कुछ तकनिकी की वजह से हुआ है यूट्यूब रेड, यूट्यूब की पेड प्रीमियम सर्विस है, जिस पर यूज़र्स एक्सक्लूसिव वीडियो देख और सेव कर सकते हैं। ये सर्विस फिलहाल अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, मैक्सिको, न्यूजीलैंड और साउथ कोरिया जैसे कुछ चुने हुए देशो में मौजूद है

यूज़र्स को यूटूयूब रेड पर वीडियो देखने के दौरान कोई भी ऐड या वीडियो से 15 या 20 सेकंड का स्किप किया जा सकने वाला कोई भी विज्ञापन नजर नहीं आएगा ये यूटूयूब रेड प्लेटफार्म बिलकुल ऐड फ्री है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here